Friday, April 19, 2024
No menu items!
Homeबिहारभोजपुरभोजपुर में एक हजार से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्रों का किया गया सत्यापन

भोजपुर में एक हजार से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्रों का किया गया सत्यापन

भोजपुर जिले में लगभग 5200 राइफल, बंदूक और पिस्टल धारक लाइसेंसधारी हैं

Arms License Verification: भोजपुर में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सभी थानों में लाइसेंसी शस्त्रों के सत्यापन का कार्य शुरू हो गया है। विगत तीन दिनों के अंदर लगभग एक हजार से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्रों का सत्यापन हो चुका है।

  • हाइलाइट :- खबरे आपकी 
    • शस्त्रों के सत्यापन का कार्य अगामी 23 फरवरी तक सभी थाना एवं ओपी में चलेगा
    • भोजपुर जिले में लगभग 5200 राइफल, बंदूक और पिस्टल धारक लाइसेंसधारी हैं

आरा: भोजपुर में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सभी थानों में लाइसेंसी शस्त्रों के सत्यापन का कार्य शुरू हो गया है। विगत तीन दिनों के अंदर लगभग एक हजार से ज्यादा लाइसेंसी शस्त्रों का सत्यापन हो चुका है। इस दौरान टाउन थाना में 200, नवादा में 150 एवं मुफस्सिल में 50 समेत पूरे जिले में एक हजार से अधिक शास्त्रों का सत्यापन हो चुका है।

डॉ. शैलेंद्र कुमार
Holi Anand
Dr. Prabhat Prakash
Vishvaraj Hospital, Arrah
डॉ. शैलेंद्र कुमार
Holi Anand
Dr. Prabhat Prakash
Vishvaraj Hospital, Arrah

पढ़ें:- भोजपुर डीएम की ओर से बड़ी संख्या में शस्त्रों का लाइसेंस रद्द: लाइसेंसधारियों के बीच मचा हड़कंप

Arms License Verification: शस्त्रों के सत्यापन का कार्य अगामी 23 फरवरी तक सभी थाना एवं ओपी में चलेगा। सत्यापन के दौरान गोली की संख्या की भी गिनती की जा रही है। ताकि इसमें किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी नही हो। इसे देखते हुए हर थाने में स्थानीय प्रखंडों और अंचलों के अंचलाधिकारी और प्रखंड विकास पदाधिकारी को मजिस्ट्रेट के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया है।

इसके अलावे संबंधित थाना के थानाध्यक्ष को इस दौरान रहने की सख्त हिदायत दी गई है। आर्म्स मजिस्ट्रेट व डीएम राज कुमार के दिए गए निर्देश में कहा गया है कि पूरे जिले में जितनी भी बंदूक, राइफल और विभिन्न प्रकार के पिस्टल रखने वाले लोग हैं। वह खुद अपने हथियारों व कारतूस को साथ लेकर थाने आएंगे और सत्यापन कराएंगे। तय समय के बाद भी इसकी जांच की जाएगी। जो लाइसेंसधारी अपने हथियार और कारतूस का सत्यापन नहीं करापाएंगे। उनके लाइसेंस को निलंबित करने के साथ रद्द करने की भी कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।

बता दें कि भोजपुर जिले में पूर्व में पहले 6500 से ज्यादा विभिन्न प्रकार के हथियारों का लाइसेंस था। इनमें से 1300 से ज्यादा लाइसेंसधारियो के मृत होने और सत्यापन नहीं कराएं लाइसेंस को हाल के दिनों में जिलाधिकारी के द्वारा रद्द किया गया है। इस तरह से जिले में अब लगभग 5200 राइफल, बंदूक और पिस्टल धारक लाइसेंसधारी हैं।

KRISHNA KUMAR
KRISHNA KUMAR
Journalist
- Advertisment -
Vikas singh
Vikas singh
sambhavna
aman singh

Most Popular

Don`t copy text!