Monday, September 20, 2021
No menu items!
Homeअन्यक्राइम मीटिंग में शांतिपूर्ण व निष्पक्ष पंचायत चुनाव कराने का टास्क

क्राइम मीटिंग में शांतिपूर्ण व निष्पक्ष पंचायत चुनाव कराने का टास्क

Panchayat Elections-संगीन मामलों में फरार चल रहे अपराधियों के खिलाफ थानों से मांगे गये इनाम के प्रस्ताव

एसपी बोले: पुलिस-प्रतिष्ठानों में लगे लैंड लाईन फोन को रखना होगा चालू

गलत उपयोग वाले हथियारों के लाइसेंस रद्द करने का भी मांगा गया प्रस्ताव

वारंट-कुर्की का निष्पादन करने और बेल बाउंड का सत्यापन करने का निर्देश

खबरे आपकी आरा। भोजपुर पुलिस अपराधियों पर नकेल कसने के साथ शांतिपूर्ण व निष्पक्ष पंचायत चुनाव (Panchayat Election) कराने में जुट गयी है। इसे लेकर जहां गंभीर मामलों में फरार चल रहे अपराधियों के खिलाफ इनाम घोषित करने की तैयारी चल रही है। वहीं क्राइम कंट्रोल एक्ट के तहत कार्रवाई भी शुरू कर दी गयी है। इधर, गलत उपयोग किये जाने वाले शस्त्रों का लाइसेंस रद्द करने की कवायद शुरू कर दी गयी है। इसे लेकर एसपी विनय तिवारी द्वारा क्राइम मीटिंग में थानेदारों से प्रस्ताव मांगा है।

सोमवार की रात घंटो चली क्राइम मीटिंग में एसपी द्वारा अपराधियों की गिरफ्तारी, कांडों के निष्पादन और पंचायत चुनाव तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान हत्या सहित गंभीर कांडों में फरार चल रहे अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं होने पर उनके खिलाफ इनाम घोषित करने का प्रस्ताव देने का निर्देश दिया। साथ ही वारंट-कुर्की का निष्पादन करने और बेल बाउंड का सत्यापन करने का निर्देश दिया।

एसपी ने कहा कि पुलिस-प्रतिष्ठानों में लगे लैंड लाईन फोन को हर हाल में चालू रखें। वहीं पंचायत चुनाव (Panchayat Election) को लेकर गलत काम में उपयोग शस्त्रों को चिन्हित कर उनका लाइसेंस रद्दीकरण का प्रस्ताव समर्पित करने, शस्त्रों व शस्त्र की दुकानों का भौतिक सत्यापन करने, बुथों का भौतिक सत्यापन करने, खूंखार अपराधकर्मियों के खिलाफ सीसीए,निगरानी और गुंडा प्रस्ताव समर्पित करने, दूसरे राज्यों व जिलों से लगे थाना के थानाध्यक्षों को बॉर्डर चेक पोस्ट की सूची तैयार करने का निर्देश जारी किया।

कम्यूनिकेशन प्लान के तहत थानाध्यक्षों को सभी पंचायतों के जनप्रतिनिधियों व गणमान्य व्यक्तियों का नाम और मोबाईल नंबर की सूची तैयार करने को भी कहा गया है। एसपी ने कहा कि पंचायत चुनाव (Panchayat Election) हर हाल में शांतिपूर्ण और निष्पक्ष तरीके से कराना है। मीटिंग में आरा सदर एसडीपीओ हिमांशु, जगदीशपुर एसडीपीओ श्याम किशोर रंजन, पीरो एसडीपीओ, नगर थानाध्यक्ष शंभू कुमार भगत, नवादा थानाध्यक्ष अविनाश कुमार, मुफ्फसिल थानाध्यक्ष अनिल कुमार समेत जिले के सभी थानाध्यक्ष और ओपी इंचार्ज मौजूद रहें।

Panchayat

पढ़ें- एसडीपीओ के जांच रिपोर्ट पर एसपी ने की कार्रवाई,दोषी पुलिस कर्मियों पर हत्या का मुकदमा करने की मांग

बेहतर काम करने वालों को इनाम, तो सुस्ती बरतने वाले अफसरों की निंदा

आरा। क्राइम मीटिंग में अच्छे और सराहनीय कार्य करने वाले अफसरों को सम्मानित किया गया। वहीं सुस्ती बरतने वालों के खिलाफ निंदन की सजा दी गयी। एसपी ने बताया कि अगस्त माह में गंभीर कांडों में 50 वांछितों को गिरफ्तार किया गया। इसमें महत्वपूर्ण योगदान के लिए जिले में काम करने वाले सभी ट्रेनी डीएसपी को प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया।

वहीं इस क्रम में हत्या कांड में निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पवना थानाध्यक्ष रितेश दुबे और सहार प्रमोद कुमार को नगद राशि देकर पुरस्कृत किया गया। इसी तरह हत्या, डकैती और लूट के कांडों में अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए चांदी थानाध्यक्ष सुबोध कुमार को पुरस्कार दिया गया।

कांडों में लक्ष्य अनुरूप गिरफ्तारी के लिये अजीमाबाद थानाध्यक्ष अंशु कुमारी और चरपोखरी थाना इंचार्ज ओमप्रकाश को एक-एक हजार रूपये से पुरस्कृत किया गया। उदवंतनगर थानाध्यक्ष ज्योति कुमारी को गंभीर कांडों में 10 गिरफ्तारी के लिए पुरस्कृत किया गया। वहीं अगस्त में निर्धारित लक्ष्य प्राप्त करने में असफल रहने वाले थानाध्यक्षों को तत्काल निंदन की सजा दी गयी।

पढ़ें- तयशुदा शादी जब लेनदेन में लटका – पुलिस थाने में अरेंज मैरिज बना प्रेम विवाह

पढ़ें- जब काशी विश्वविद्यालय को अस्पताल बना देने की धमकी दी थी गवर्नर ने..

- Advertisment -
ad
ad23
Ad

Most Popular