Tuesday, April 16, 2024
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरकुख्यात आशीष पासवान व उसके भाइयों समेत सात पर प्राथमिकी

कुख्यात आशीष पासवान व उसके भाइयों समेत सात पर प्राथमिकी

Police-investigating.jpg
मिथुन को मारी गयी थी पांच गोलियां

मिथुन हत्याकांडः

प्राथमिकी में मिथुन के पिता ने रंगदारी नहीं देने पर हत्या का लगाया आरोप

पिता बोले-पंद्रह रोज पहले मांगी गयी थी रंगदारी, दी गयी थी धमकी

आरोपितों की धरपकड़ को लेकर विशेष टीम गठित, तेज हुई छापेमारी

आरा। शहर के टाउन थाना क्षेत्र के गौसगंज निवासी मिथुन पासवान हत्याकांड में प्राथमिकी दर्ज करा दी गयी है। उसमें गौसगंज निवासी कुख्यात आशीष पासवान व उसके दो भाइयों समेत सात लोगों को आरोपित किया गया है। इनमें तीन पिता-पुत्र भी हैं। जबकि एक भलुहीपुर का रहने वाला है। दो अज्ञात को भी आरोपित किया गया है।

मिथुन पासवान के पिता नंद किशोर के बयान पर दर्ज प्राथमिकी में रंगदारी नहीं देने पर गोली मारकर हत्या किये जाने का आरोप लगाया गया है। आरोपितों में शहर के गौसगंज मुक्हल्ला के आशीष पासवान, उसका भाई अविनाश पासवान, अंकित पासवान के अलावे राम प्रवेश पासवान, उसका पुत्र सर्वजीत पासवान व अमरजीत पासवान और भलुहीपुर का छोटू यादव शामिल हैं।

डॉ. शैलेंद्र कुमार
Holi Anand
Dr. Prabhat Prakash
Vishvaraj Hospital, Arrah
डॉ. शैलेंद्र कुमार
Holi Anand
Dr. Prabhat Prakash
Vishvaraj Hospital, Arrah

सूत्रों के अनुसार आशीष पासवान पेट्रोल पंप लूट कांड सहित अन्य मामलों में भी आरोपित है। इधर, हत्या के 24 घंटे के बाद भी आरोपित पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। हालांकि आरोपितों की धरपकड़ के लिये एसपी सुशील कुमार द्वारा सदर एसडीपीओ अजय कुमार के नेतृत्व में विशेष टीम गठित कर दी गयी है। डीआईयू टीम को भी लगाया गया है। दोनों टीमें लगातार छापेमारी कर रही है। प्राथमिकी के अनुसार आशीष पासवान सहित अन्य आरोपितों द्वारा पंद्रह रोज पहले मिथुन से रंगदारी की मांग की गयी थी। नहीं देने पर हत्या की धमकी भी दी गयी थी। उसी विवाद में गोली मार हत्या कर दी गयी।

कोईलवर थाना क्षेत्र के बिन्दगावां के सेमरा छठ घाट पर सोमवार की शाम घटी घटना

मिथुन को मारी गयी थी पांच गोलियां, एक्स-रे से हुआ खुलासा

आरा। शहर के गौसगंज मोहल्ला निवासी मिथुन पासवान को ताबड़तोड़ पांच गोलियां मार मौत के घाट उतार दिया गया था। शव के एक्स-रे से इसका खुलासा हुआ है। जानकारी के अनुसार पोस्टमार्टम के पहले शव का एक्स-रे कराया गया था। उसमें मिथुन के शव में पांच बुलेट दिखाई दे रहा था। हालांकि उसमें दो बुलेट ही निकाला गया। उसके बाद परिजनों के अनुरोध पर शव का पोस्टमार्टम कर दिया गया।

मामले की जांच करने देर रात सदर अस्पताल पहुंचे एसपी

आरा। गौसगंज निवासी मिथुन पासवान की हत्या के बाद एसपी सुशील कुमार देर रात करीब सदर अस्पताल पहुंचे। उन्होंने मृतक के परिजनों से बातचीत की और पूरी घटना की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने थानाध्यक्ष और डीआईओ के अफसरों को निर्देश भी दिया। उन्होंने बताया कि मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। नगर निगम के ठेकेदारी से संबंधित विवाद की बात भी सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि एक दूसरे व्यक्ति द्वारा दांगी व बस स्टैंड में चुंगी वसूली का ठेका लिये जाने का प्रयास किया जा रहा था। लेकिन ऐन वक्त ठेका मिथुन पासवान को मिल गया।

सोमवार की शाम गोली मार कर दी गयी थी हत्या

आरा। मिथुन पासवान अपने रिश्ते के भांजे गौजगंज निवासी दीपक पासवान के साथ सोमवार की शाम गांगी की ओर जा रहा था। इस बीच जानकी मंदिर के समीप बाइक सवार अपराधियों ने घेर कर उस पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। इसमें उसकी मौत हो गयी। घटना के बाद सभी सरैयां की ओर भाग गये।

और भी पढ़े – खबरें आपकी-फेसबुक पेज

हत्या के पीछे वर्चस्व की भी चर्चा, एक कुख्यात का भी आ रहा नाम=पढिए पुरी खबर विस्तार से…

KRISHNA KUMAR
KRISHNA KUMAR
Journalist
- Advertisment -
Vikas singh
Vikas singh
sambhavna
aman singh

Most Popular

Don`t copy text!