Saturday, October 16, 2021
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबररवि यादव हत्याकांड का खुलासा, निवर्तमान प्रखंड प्रमुख पति सहित सात की...

रवि यादव हत्याकांड का खुलासा, निवर्तमान प्रखंड प्रमुख पति सहित सात की हत्या में रही संलिप्तता

Ravi Yadav Murder Case-नौ माह बाद हत्या कांड का हुआ खुलासा, प्रेम प्रसंग में गयी युवा नेता की जान

हत्या में इस्तेमाल लाइसेंसी पिस्टल, राइफल, मैगजीन और 35 गोली बरामद

अन्य आरोपितों की धरपकड़ को पुलिस कर रही छापेमारी

खबरे आपकी  Ravi Yadav Murder Case भोजपुर के आयर थाना क्षेत्र के भेड़री गांव निवासी युवा नेता सौरभ राज उर्फ रवि यादव हत्याकांड का खुलासा हो गया। युवा नेता की प्रेम प्रसंग में हत्या की गयी थी। उसे लाइसेंसी पिस्टल और राइफल से गोली मारी गयी थी। हत्या में गड़हनी प्रखंड प्रमुख पति सहित सात लोगों की संलिप्तता रही है। करीब नौ माह बाद एक आरोपित की गिरफ्तार कर पुलिस ने इस कांड का खुलासा किया है। इस मामले में पुलिस ने गड़हनी थाना के आजमनगर गांव निवासी धर्मदेव यादव उर्फ गजरई को गिरफ्तार किया है। पुलिस की पूछताछ में उसने हत्या किये जाने की बात कबूल कर ली है। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल मैगजीन सहित एक लाइसेंसी पिस्टल, एक राइफल,7.65 एमएम की दस और 315 बोर की 25 गोली भी जब्त की गयी है।

युवा नेता हत्या कांड में एक गिरफ्तार, हथियार और गोली बरामद

एसपी विनय तिवारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हत्या कांड का उद्भेदन और अपराधियों की पहचान कर गिरफ्तारी के लिये सदर एसडीपीओ हिमांशु के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया था। टीम द्वारा भौतिक और तकनीकी अनुसंधान के आधार पर आजमनगर गांव निवासी धर्मदेव यादव उर्फ गजरई को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्त से पूछताछ और अनुसंधान के क्रम में तथ्य सामने आया कि प्रेम प्रसंग के कारण सौरभ राज उर्फ रवि यादव की एक सुनियोजित ढंग से गोली मार कर हत्या कर गयी है। उसमें गिरफ्तार धर्मदेव यादव उर्फ गजरई के अलावे गड़हनी के प्रखंड प्रमुख पति निर्मल यादव, जिम्मी यादव, सुशील यादव, मनोज यादव, कृष्णा यादव और वीर बहादुर रवानी शामिल रहे हैं।

बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त के बताये अनुसार छापेमारी के क्रम में वारदात में हत्या में लाइसेंसी पिस्टल (मैगजीन सहित) लाइसेंसी रायफल (मैगजीन सहित), 315 एमएम की 25 और 7.65 का गोली 10 बरामद की गयी है। कांड में संलिप्त अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिये छामापरी की जा रही है। 

Ravi Yadav Murder Case-श्राद्ध कर्म में गये युवा नेता की गोली मार की गयी थी हत्या, गड़हनी इलाके में मिला था शव

Ravi Yadav Murder Case
भोजपुर के आयर थाना क्षेत्र के भेड़री गांव निवासी युवा नेता सौरभ राज उर्फ रवि यादव हत्याकांड का खुलासा

आरा। भेड़री गांव निवासी रिटायर फौजी हरिद्वार सिंह के पुत्र सौरभ राज उर्फ रवि यादव युवा नेता था। पूर्व में पंचायत चुनाव भी लड़ चुका था। उसकी पिछले साल दिसंबर माह में गोली मार हत्या की गयी थी। उसका शव गड़हनी थाना क्षेत्र के रमडिहरा के समीप मिला था। उसे लेकर रवि यादव के पिता के बयान पर अज्ञात अपराधियों के खिलाफ प्राथमिकी की गयी थी।

पढ़ें- आरा शहर के नगर थाना क्षेत्र पड़ोसी की पत्नी को भगा ले जाना वाला गिरफ्तार

बताया जाता है कि रवि यादव पिछले 23 दिसंबर की दोपहर एक श्राद्ध में भाग लने गड़हनी इलाके में गया था। शाम में वह अपने मित्र के साथ बाइक से लौट रहा था। लेकिन घर नहीं पहुंच सका था। अगले दिन 24 दिसम्बर की सुबह गड़हनी थाना क्षेत्र के रामडीहरा पुल के समीप सड़क किनारे से उसका शव बरामद किया गया था। गोली मार उसकी हत्या की गयी थी।

 पढ़ें- पार्टी में बना प्लान और शाम में गोलियों से भून दिया गया माले नेता का पुत्र

घटना को लेकर हंगामा और रोड जाम भी किया गया था। हत्यारों की गिरफ्तारी को लेकर थाने का घेराव भी किया गया था। उसे गंभीरता से लेते हुये एसपी ने नये सिरे से टीम बनाकर तफ्तीश शुरू की। टीम में गड़हनी थाना इंचार्ज संतोष कुमार रजक, उदवंतनगर थानाध्यक्ष ज्योति कुमारी, डीआईयू के दारोगा सुदेह कुमार, राकेश कुमार, कुमार रजनीकांत, राजीव रंजन अवधेश कुमार सहित अन्य डीआईयू कर्मी थे।

- Advertisment -
ad
ad
ad
ad
ad (2)
AD
ad
ad (2)
Ad

Most Popular