Wednesday, December 1, 2021
No menu items!
Homeअन्यचर्चित खबरदशहरा मेला घूमने निकले राजेश की तालीबानी अंदाज में हत्या

दशहरा मेला घूमने निकले राजेश की तालीबानी अंदाज में हत्या

Rajesh murdered in Taliban style-इकलौते पुत्र की हत्या से मचा कोहराम, बेटे के वियोग में मां बेहाल 

मोर्चा गांव के पास जेसीबी से खोदे गये गड्डे से मिला शव, युवक की बाइक भी बरामद

खबरे आपकी आरा/जगदीशपुर। भोजपुर के जगदीशपुर थाना क्षेत्र के जागा के पीपरा वार्ड-16 मोहल्ला निवासी राजेश कुमार उर्फ अनुज गोंड को प्यार की कीमत जान देकर चुकानी पड़ी। उसे तालीबानी अंदाज में धारदार हथियार से गला काट कर मौत की सजा दी गयी है। युवक का सिर भी गायब कर दिया गया। उसका शव बगल के मोर्चा गांव के पास जेसीबी से खोदे गये गढ्ढे से बरामद किया गया है। मौके से उसकी बाइक भी बरामद की गयी है। युवक को बगल के गांव की दूसरी जाति की लड़की से प्रेम करने की सजा मिली है।

पढ़ें:- प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने किया पति का कत्ल: राज खुलते ही प्रेमी फरार

Rajesh murdered in Taliban style-12 अक्टूबर को सासाराम से आया था गांव, 13 को गया था मेला घूमने 

Rajesh murdered in Taliban style
राजेश उर्फ़ अनुज गोंड की तालीबानी अंदाज में हत्या

13 अक्टूबर की रात से ही लापता था राजेश, 19 को मिल गया शव

राजेश कुमार उर्फ अनुज गोंड रोहतास के सासाराम में एक पेट्रोल पंप पर काम करता था। मामा शिव शंकर साहू के अनुसार राजेश कुमार 12 अक्टूबर को गांव आया था। 13 की रात दशहरा का मेला घूमने निकला था। उसके बाद वह घर नहीं लौट सका। तब उसकी खाफी खोजबीन की गयी। लेकिन कहीं पता नहीं चल सका। इसे लेकर 14 अक्टूबर को थाने में उसके अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करायी गयी। पुलिस और परिजन अभी उसको खोज ही रहे थे कि मंगलवार को हत्या कर फेंका गया उसका शव बरामद कर लिया गया। इधर, युवक की सिरकटी लाश मिलने की सूचना पर गांव और आसपास के इलाके में सनसनी मच गई है। सूचना मिलने जगदीशपुर थानाध्यक्ष संजीव कुमार भी दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और तफ्तीश में जुट गये। इस दौरान प्रेमिका, उसके भाई राकेश, मिथलेश और पिता अवध बिहारी सिंह उर्फ मिठू को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान सभी ने हत्या में अपनी संलिप्तता स्वीकार की।

सिर नहीं होने पर कपड़े के आधार पर राजेश हो सकी पहचान 

Rajesh murdered in Taliban style-राजेश कुमार उर्फ अनुज गोंड के मामा शिव शंकर साहू ने बताया कि मोर्चा गांव की एक लड़की जागा के पीपरा ट्यूशन पढ़ने आती थी। उसी समय से दोनों के बीच करीब छह महीनों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। उसी विवाद में उसके भांजे की बेरहमी से हत्या कर दी गयी और सिर गायब कर दिया गया। शव मिलने की सूचना पर वे लोग पहुंचे, तो सिर गायब था। तब कपड़ों के आधार पर उसकी पहचान की जा सकी। इधर, इकलौते पुत्र राजेश कुमार की हत्या से घर में कोहराम मचा है। बेटे के वियोग में मां पूनम देवी बेहाल थी। उनकी चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया था। 

पढ़ें:- नियम का उल्लंघन: दो अध्यक्ष सहित 20 सदस्य पर नामजद प्राथमिकी, 10 अज्ञात भी आरोपित

पूरी प्लानिंग के तहत हत्या की वारदात को दिया गया अंजाम

जागा के पीपरा मोहल्ला निवासी राकेश कुमार उर्फ अनुज कुमार गोंड की हत्या पूरी प्लानिंग के साथ की गई थी। इसको लेकर प्रेमिका के परिजनों द्वारा पहले से ताना बाना बुना गया था। बताया जा रहा है कि नवरात्र की अष्टमी तिथि को राजेश ने प्रेमिका के मोबाइल पर कॉल की थी। तब पूरी रणनीति के तहत उसकी प्रेमिका ने आधे घंटे तक बात की थी। उसके बाद उसे घर रात में घर पर बुलाया। राजेश रात में उससे मिलने बागीचे से होकर जा रहा था। तभी प्रेमिका के परिजनों ने उसे पकड़ लिया और उसके सर पर वार कर दिया। इससे वह बेहोश हो गया। फिर उसकी पिटाई कर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद उसका सर धड़ से अलग कर और कपड़ा उतर कर बोरा में अलग-अलग पैक कर दिया गया। धड़ को पास में जेसीबी से खोदे गये गड्ढे में फेंक दिया गया। जबकि सर को कुछ दूर फेंक दिया गया। घटना के प्रेमिका के भाइयों ने बहन का सिम, युवक की बाइक, मोबाइल और हत्या में प्रयुक्त गडासी गड्ढे में डाल दिया था। ताकि किसी भी सूरत में साक्ष्य का पता नही चल सके।

छह माह से चल रहा था प्रेम, प्रेमिका की तय हो गयी थी शादी

Rajesh murdered in Taliban style-बताया जा रहा है कि राजेश कुमार का मोर्चा गांव की उस लड़की से करीब छह माह से प्रेम संबंध था। ट्‌यूशन आने के दौरान दोनों के बीच प्रेम हो गया था। हालांकि दोनों अलग-अलग जाति के थे। इस कारण इनके घरवालों को इनका प्यार मंजूर नहीं था। इस बीच लड़की की शादी भी तय हो गयी थी। लेकिन दोनों का प्रेम कम नहीं हो रहा था। इधर, सूत्रों के अनुसार युवक लड़की की शादी का विरोध कर रहा था। इससे लड़की के घरवाले काफी चिढ़ गये थे। उसी को लेकर उसकी बेरहमी से कत्ल कर दिया गया। 

फॉरेंसिक टीम ने की जांच, साक्ष्य के तौर पर जब्त किया बोरा

आरा। राजेश कुमार उर्फ अनुज गोंड की हत्या की जांच करने के लिए एफएसएल की टीम भी घटनास्थल पर पहुंची। इस दौरान टीम ने घटनास्थल की बारिकी से जांच की। लोगों से भी घटना की पूरी जानकारी ली। टीम कुछ नमूने भी जब्त कर ले गयी है। बताया जा रहा है कि युवक के सर और धड़ को बोरे में भर कर अलग-अलग स्थान पर फेंक दिया था। जिस बोरे में सर डाला गया था। वह फटा हुआ था। आशंका जताई जा रही है कि जंगली जानवर सर को लेकर भाग गए होंगे। टीम ने बोरे को जब्त कर लिया।

शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया पटना आरा जगदीशपुर के जागा के पिपरा गांव निवासी राजेश कुमार उर्फ अनुज कुमार गोंड़ की हत्या कर फेंका गया। शव पूरी तरह सड़ गल गया था। पुलिस उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल ले आई। लेकिन सदर अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका। इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए पटना भेज दिया गया।

पढ़ें:- जिंदगी इम्तिहान लेती है… गाने वाले दारोगा दिलीप कुमार निराला की जिंदगी की शुरु हुई परीक्षा

- Advertisment -
Jain Ornaments ad
Raj Auto AD
Sambhawana School Ad
Kids Campus Mission School AD
Jain Ornaments ad
Raj Auto AD
Sambhawana School Ad
Kids Campus Mission School AD
Nagarmal Ad
Heart care centre ad
Modern x Ray AD
Maa sharde Ad
Nagarmal Ad
Heart care centre ad
Ad
Modern x Ray AD
Maa sharde Ad

Most Popular