Wednesday, May 18, 2022
No menu items!
HomeNewsबिहार पुलिस की रडार पर बालू माफिया पांडेय और राय गिरोह

बिहार पुलिस की रडार पर बालू माफिया पांडेय और राय गिरोह

Sand mafia pandey and rai gang: कमालुचक दियारा गोलीकांड में दोनों गिरोह के पांच दर्जन सदस्यों पर केस

कोईलवर दोहरा हत्या कांडः बालू माफियाओं की संपत्ति होगी जब्त

खबरे आपकी बिहार आरा। भोजपुर के कोईलवर थाना क्षेत्र के कमालुचक बालू घाट पर कब्जा करने को लेकर गोलीबारी और दोहरे हत्याकांड में सत्येंद्र पांडेय व विदेशी राय गिरोह पुलिस की रडार पर है। दोनों गिरोह के चिन्हित सदस्यों की संपत्ति जब्त करने की तैयारी शुरू कर दी गयी है। इसके तहत पहले कुर्की की जायेगी और उसके बाद संपत्ति जब्ती की प्रक्रिया शुरू होगी। इसे लेकर पुलिस द्वारा दोनों गिरोह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। कोईलवर थानाध्यक्ष के बयान पर दर्ज मामले में दोनों गिरोह के 28 लोगों को नामजद किया गया है। वहीं 30 से 35 अज्ञात लोगों को भी आरोपित किया गया है। इस मामले में शनिवार को मृतकों के परिजनों की ओर से भी नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। इसके बाद से ही पुलिस आरोपितों की धरपकड़ में जुट गयी है। अब पुलिस वारंट के लिये कोर्ट जाने वाली है।

Sand mafia pandey and rai gang: गिरफ्तारी नहीं होने पर की जायेगी कुर्की, उसके बाद जब्त होगी संपत्ति

माना जा रहा है कि सोमवार को पुलिस कोर्ट में वारंट के लिये अर्जी देगी। उसके बाद इश्तेहार और कुर्की की प्रक्रिया शुरू की जायेगी। इधर, आरोपितों की धरपकड़ में जुटी पुलिस की टीम ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। इस दौरान आधा दर्जन लोगों को हिरासत में पूछताछ की जा रही है। वहीं शुक्रवार को गिरफ्तार दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया गया। एसपी विनय तिवारी ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी के लिये छापेमारी की जा रही है। कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि अवैध खनन और गोलीबारी में सत्येंद्र पांडेय व विदेशी राय गिरोह के हाथ होने की बात सामने आयी है। दोनों गिरोह के सभी सदस्यों को चिन्हित कर लिया गया है। सभी की पहले कुर्की की जायेगी। उसके बाद संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई की जायेगी। 

बालू घाट पर कब्जा करने को लेकर दोनों गिरोह में हुई थी गोलीबारी 

Sand mafia pandey and rai gang

दोहरे हत्याकांड की जांच में जुटी पुलिस का मानना है कि बालू घाट पर कब्जा जमाने व वर्चस्व को लेकर विदेशी राय और सत्येंद्र पांडेय गिरोह के बीच गोलीबारी हुई थी। दोनों गिरोह के बीच पहले भी कई बार खूनी संघर्ष हो चुकी है। दोनों गिरोह पर पहले से भी अवैध खनन को लेकर कई मामले दर्ज हैं। सरगना सत्येंद्र पांडेय और विदेशी राय समेत दोनों गिरोह के कई सदस्य पूर्व में जेल भी जा चुके हैं। शुक्रवार की भो दोनों गिरोह कमालुचक घाट पर कब्जा करने को लेकर भिड़ गया था। उस दौरान जमकर गोलीबारी हुई, जिसमें दो लोगों की गोली लगने से मौत हो गयी थी। उस आधार पर पुलिस दोनों गिरोह पर नकेल कसने में जुट गयी है। उसी के तहत दोनों गिरोह के सदस्यों के खिलाफ प्राथमिकी की गयी है।

बता दें कि शुक्रवार को कमालुचक स्थित बालू घाट की शुरुआत करने को लेकर पूजा करने के दौरान दोनों गिरोह के बीच फायरिंग हुई थी। उसमें उत्तर प्रदेश के महाराजगंज थाना क्षेत्र के बेलभरिया निवासी 34 वर्षीय पुत्र दुर्गेश कुमार और नवादा थाना क्षेत्र के चंदवा हाउसिंग कॉलोनी निवासी संजीत कुमार की मौत हो गई थी। उसे लेकर मृतक के परिजनों के बयान पर कोईलवर थाने में पच्चीस पर नामजद व तीस से पैंतीस अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

- Advertisment -

Most Popular