Tuesday, April 13, 2021
No menu items!
Home News पेट में लगी गोली से जख्मी था युवक, डाक्टर विकास ने बचा...

पेट में लगी गोली से जख्मी था युवक, डाक्टर विकास ने बचा ली जान

Dr. Vikas ने गोली से जख्मी युवक की बचायी जान

ऑपरेशन कर जख्मी के पेट में लगी गोली को निकाला

मो. वसीम खबरे आपकी Dr. Vikas आरा। गोली से जख्मी सीमेंट व्यवसायी के स्टाफ का ऑपरेशन डॉक्टर विकास सिंह Dr. Vikas ने किया। इस दौरान गोली का बुलेट निकाला गया। तकरीबन चार घंटे तक चले ऑपरेशन के दौरान मरीज की हालत अभी स्थिर है। लेकिन उसे भी 72 घंटे तक ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा। चिकित्सक ने बताया कि ऑपरेशन के दौरान दो यूनिट ब्लड चढ़ाया गया, बाद में दो यूनिट अतिरिक्त ब्लड चढ़ाया जाएगा। गोली से जख्मी का आंत करीब 13 जगह क्षतिग्रस्त हो गया था। गोली लगने से लीवर भी थोड़ा डैमज हो गया है। उसे रिपेयर किया गया।

अपराधियों ने पहले स्टाफ को रोका, फिर भागने पर मार दी गोली
सीमेंट व्यवसायी का स्टाफ गुड्‌डू गुरुवार की दोपहर बबुरा से कलेक्शन कर लौट रहा था। दोपहर करीब ढाई बजे वह हरिपुर-चंदा पेट्रोल पंप के पास बाइक पर सवार अपराधियों ने पहले उसको रोकने का प्रयास किया। इस पर वह अज्ञात लोगों को देख भागने लगा। तब अपराधियों ने ओवरटेक को आगे से उसे गोली मार दी। पेट में गोली लगते ही वह गिर पड़ा। उसके बाद अपराधी पैसे लेकर भाग गये। उसके बाद उसे कोईलवर पीएचसी ले जाया गया। वहां प्राइमरी इलाज के बाद से आरा रेफर कर दिया गया। वहीं मौके पर मौजूद लोगों की मानें तो अपराधी दो बाइक पर सवार थे। उसमें काले रंग की बाइक पर सवार अपराधियों ने उसे गोली मारी थी।

पढ़े :- पुलिस ने सील की मकान,हरियाणा से मंगायी गयी थी शराब की खेप, सप्लाई से पहले जब्त

गोलीबारी और लूट से लोगों में आक्रोश
सीमेंट व्यवसयी के स्टाफ को गोली मारकर पैसे लूट की घटना से व्यवसायियों और आम लोगों में रोष है। घटना की सूचना मिलने पर बाबू बाजार स्थित अस्पताल में कई नेता पहुंचे। इस दौरान जदयू नेता विश्वनाथ सिंह, भाकपा माले नेता अमित कुमार बंटी, जदयू नेता राकेश रंजन उर्फ पुतुल ने घटना की जानकारी ली, उन्होंने अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की मांग एसपी से की है।

पढ़े :- जीपीएस ट्रैकिंग के जरिये एसपी के पेट्रोलिंग में फंस गयी तीन थानों की पुलिस

अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर ताबड़तोड़ छापेमारी
व्यवसायी को गोली मारकर रुपये लूट के घटना के बाद पुलिस चौकस हो गई। सदर एसडीपीओ पंकज कुमार रावत के नेतृत्व में बड़हरा और कोईलवर थाना पुलिस अपराधियों की धरपकड़ के लिए सघन छापेमारी कर रही है। हालांकि इस दौरान किसी भी अपराधी के गिरफ्तार होने की सूचना नहीं है। बताया जाता है कि अपराधी काले रंग के पल्सर बाइक पर सवार थे। उनकी संख्या तीन और चार बताई जा रही है।

- Advertisment -
Slider
Slider

Most Popular