Tuesday, July 27, 2021
No menu items!
HomeNewsसत्ता पक्ष, विपक्ष और आम लोग मिलकर कोरोना का करें मुकाबला-सुदामा प्रसाद

सत्ता पक्ष, विपक्ष और आम लोग मिलकर कोरोना का करें मुकाबला-सुदामा प्रसाद

Tarari MLA Sudama Prasad-पुस्तकालय समिति के सभापति द्वारा मुख्यमंत्री से जीवनरक्षक दवाईयों व संसाधनों को तत्काल बढ़ाने की मांग

Tarari MLA Sudama Prasad ने पार्टी द्वारा किये गये सर्वेक्षण रिपोर्ट पर मुख्यमंत्री से व्यवस्था सुनिश्चित मांग का पत्र प्रेषित

खबरे आपकी बिहार/आरा: भोजपुर के तरारी से भाकपा (माले) विधायक सुदामा प्रसाद ने कोरोना महामारी में ऑक्सीजन, फ्लोमीटर वेंटीलेटर सहित तमाम जीवनरक्षक दवाईयों व संसाधनों को तत्काल बढ़ाने के संबंध में सूबे के मुख्यमंत्री को एक पत्र प्रेषित किया है। जिसमें उन्होने कहा है कि कोरोना महामारी के इस विकट घड़ी में बीमारी से लड़ने के लिए अति आवश्यक जीवनरक्षक दवाई, चिकित्सक, जांच टेकनिशियन, आक्सीजन, फ्लोमीटर वेंटीलेटर आदि के अभाव में भोजपुर सहित पूरे बिहार में अफरा-तफरी का माहौल है। ऐसे में सत्ता पक्ष, विपक्ष और आम लोगों को मिलजूलकर इस बीमारी का मुकाबला करते हुए इसे मात देने की जरूरत है।

भोजपुर के सदर अस्पताल सहित मैने और मेरे पार्टी के कई नेताओं कार्यकर्ताओं ने सभी प्रखंडों के अस्पतालों का निरीक्षण कर चिकित्सकों, मरीजों और आमजनों से बात कर कई जानकारियां व सुझाव हासिल किए हैं, जिनके मद्देनजर हम आपके समक्ष निम्नलिखित सुराव और मांग रखते हैं :

  • आरा सदर अस्पताल में फ्लोमीटर का घोर अभाव है। अतः तत्काल इसकी व्यवस्था सुनिश्चित की जाय ताकि मरीजों की जान बचाई जा सके
  • ऑक्सीजन सिलेंडरों की संख्या बढ़ाकर जरूरत के हिसाब से नियमित व व्यवस्थित ऑक्सीजन आपूर्ति की गारंटी की जाये। साथ ही मरीजों के परिजनों द्वारा ऑक्सीजन हासिल करने की अफरा तफरी को दूर करने के लिए अस्पताल कैम्पस में स्थायी तौर पर एक सक्षम दंडाधिकारी व पुलिस टीम की व्यवस्था की जाये। हेल्पलाईन का बैनर लगाकर इस अफरा तफरी को समाप्त किया जा सकता है। 3. आरा सदर अस्पताल में पिछले साल से 4 वेंटीलेटर रखे हैं, जो प्रशिक्षण के अभाव में अनुपयोगी है। इसके लिए एक प्रशिक्षित डॉ. की बहाली करने के साथ 100 वेंटीलेटर उपलब्ध कराया जाये।
  • कोईलवर मेंटल अस्पताल को भी 100 बेड वाला वेंटीलेटरयुक्त कोविड अस्पताल बनाया जा सकता है। 3. सभी प्रखंडों के पीएचसी में ऑक्सीजन व फ्लोमीटर सहित 50 बेड़ों की व्यवस्था की जाये। इससे सदर अस्पताल और राजधानी पर इलाज के लिए पड़ रहे भारी दबाव और अफरा तफरी को बहुत हद तक कम किया जा सकता है। 6. प्रखंडों के पीएचसी में अमुमन एक ही एम्बुलेंस है, जिससे कोविड मरीज, गर्भवती महिलायें दुर्घटनाग्रस्त मरीजों व कोविड वैक्सीन की ढुलाई होती है, जिससे रोग संक्रमण का बराबर खतरा रहता है। अतः हर पीएचसी में कोविड मरीजों के लिए एक अतिरिक्त एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाये।
  • कोरोना के तेज रफ्तार से ग्रामीण इलाकों में भी फैल रही है। पटना के पालीगंज में कोविंड से 70 लोगों की जान चली गयी है। अतः डॉक्टरों व टेकनिशियन की बहाली प्रक्रिया को कम से कम समय में सहज व व्यवहारिक बनाया जाये। ताकि जांच व उपचार की प्रक्रिया को तीव्र किया जा सके।
  • कोरोना से मरे व्यक्तियों के परिजनों को तयशुदा मुआवजा की राशि को जल्द से जल्द दी जाये।
  • कोविड के इलाज में लगे लोगों की चिकित्सीय, शारिरिक व आर्थिक सुरक्षा का समुचित प्रबंध किया जाये।
  • गांव व कस्बों में कार्यरत प्राइवेट प्रैक्टीशनर को भी वैधानिक तौर पर ऑक्सीजन व फ्लोमीटर उपलब्ध कराया जाये।
  • भोजपुर में बढ़ते कोरोना महामारी के मद्देनजर आरा सदर अस्पताल में जिलाधिकारी व सिविल सर्जन की देखरेख में अस्पताल परिसर में आपदा नियंत्रण कक्ष चालू किया जाये।

पढ़े :- डाक्टरो के साथ मारपीट व दुर्व्यवहार करवाने वाले भेजे जाएंगे जेल-आरके सिंह

Tarari MLA Sudama Prasad
Tarari MLA Sudama Prasad

पढ़े :- पाइप लाइन से होगी ऑक्सीजन की आपूर्ति, इमरजेंसी वार्ड में सेंट्रल पाइप लाइन व्यवस्था चालू

पढ़े :- पिरौंटा लूट कांडः-मोबाइल सर्विलांस के आधार पर पुलिस ने तीन लाइनर को दबोचा

- Advertisment -
AD
Ad
Akash Yadav Murder Shahpur
Akash Yadav Murder Shahpur Bihar

Most Popular